Khadiradi Bati – Yoga Ratnakar

Indication:

Blisters in the mouth and sucking on the pot when the mouth is cooked are good benefits. It is absolutely beneficial in all major diseases like a tooth, ointment, tongue, palate, gums, etc. It is beneficial in vocal discoloration (hoarseness), falling saliva from the mouth, etc. Gulping it increases the taste of the mouth and also provides relief in cough. If there is a cough, giving 3-4 spoons of Vasa-x syrup in a day is very beneficial.

Dose: Throughout the day consume 10-12 tablets gulping 1-1 tablets at a time. Along with that, apply Irimedadi oil 1-2 times helps in quick relief of ulcers.

Available in: 10 gm. & 20 gm

 

खादिरादि बटी

गुणधर्म: मुंह में छालें पड़ना तथा मुंह के पक जाने पर इस बटी को चूसने से अच्छा लाभ होता है। यह दाँत, ओष्ट, जिह्वा, तालू, मसूढ़ों का फूलना आदि सभी मुख रोगों में पूर्ण लाभकारी है यह स्वर भेद (आवाज बैठना) मुंह से लार गिरना आदि में लाभदायक है। इसके चूसने से मुंह का स्वाद बढ़ता है तथा खांसी में भी लाभ होता है। यदि खांसी हो तो शर्मायु का वासा-एक्स सीरप दिन में 3-4 चम्मच देने से विशेष लाभ होता है।

मात्रा: 1-1 टेब. करके दिन-रात में 10-12 टेब. तक चूसना चाहिए। इसके साथ-साथ 1-2 बार शर्मायु इरिमेदादि तेल लगाने से छालों में शीघ्र लाभ होता है।

Indication:

Blisters in the mouth and sucking on the pot when the mouth is cooked are good benefits. It is absolutely beneficial in all major diseases like a tooth, ointment, tongue, palate, gums, etc. It is beneficial in vocal discoloration (hoarseness), falling saliva from the mouth, etc. Gulping it increases the taste of the mouth and also provides relief in cough. If there is a cough, giving 3-4 spoons of Vasa-x syrup in a day is very beneficial.

Dose: Throughout the day consume 10-12 tablets gulping 1-1 tablets at a time. Along with that, apply Irimedadi oil 1-2 times helps in quick relief of ulcers.

Available in: 10 gm. & 20 gm

 

खादिरादि बटी

गुणधर्म: मुंह में छालें पड़ना तथा मुंह के पक जाने पर इस बटी को चूसने से अच्छा लाभ होता है। यह दाँत, ओष्ट, जिह्वा, तालू, मसूढ़ों का फूलना आदि सभी मुख रोगों में पूर्ण लाभकारी है यह स्वर भेद (आवाज बैठना) मुंह से लार गिरना आदि में लाभदायक है। इसके चूसने से मुंह का स्वाद बढ़ता है तथा खांसी में भी लाभ होता है। यदि खांसी हो तो शर्मायु का वासा-एक्स सीरप दिन में 3-4 चम्मच देने से विशेष लाभ होता है।

मात्रा: 1-1 टेब. करके दिन-रात में 10-12 टेब. तक चूसना चाहिए। इसके साथ-साथ 1-2 बार शर्मायु इरिमेदादि तेल लगाने से छालों में शीघ्र लाभ होता है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Khadiradi Bati – Yoga Ratnakar”

Your email address will not be published. Required fields are marked *