Ras Manikya

Indication:

It is good in various types of leprosy and blood disorders etc. Watery, fistula, pulse, ulcers, contaminated wounds, itching, boils, pimples, rashes, golden, eczema, skin diseases, nose, and mouth, etc. are clear in a few days after its use.

Dose: 125 mg for people with full age in blood disorders. From 250 mg. (1 to 2 rattis), children should take the fourth dose twice a day, honey 3 g, butter 1.5 g.

Available in: 5 gm. & 10 gm.

 

रस माणिक्य

गुणधर्म: यह गलित मण्डल आदि विभिन्न प्रकार के कुष्ठ एवं रक्त विकारों में अच्छा लाभकारी है। वातरक्त, भगन्दर, नाड़ी, व्र्रण, दूषित घाव, खुजली, फोड़े-फुन्सी, चकत्ते सुनबहरी, विचर्चिका (एक्जिमा), नाक एवं मुंह के रोग आदि चर्मरोग इसके सेवन से कुछ ही दिनों में निर्मूल हो जाते है।

मात्रा: रक्त विकारों में पूरी आयु वालों को 125 मिग्रा. से 250 मिग्रा. (1 से 2 रत्ती) तक, बच्चों को चैथाई मात्रा सुबह-शाम, मधु 3 ग्रा., घृत 1.5 ग्रा. के साथ घोंटकर चाटें और महामंजिष्ठादि काढ़ा 3-3 चम्मच समभाग पानी मिलाकर सुबह-शाम खाने के बाद।

Indication:

It is good in various types of leprosy and blood disorders etc. Watery, fistula, pulse, ulcers, contaminated wounds, itching, boils, pimples, rashes, golden, eczema, skin diseases, nose, and mouth, etc. are clear in a few days after its use.

Dose: 125 mg for people with full age in blood disorders. From 250 mg. (1 to 2 rattis), children should take the fourth dose twice a day, honey 3 g, butter 1.5 g.

Available in: 5 gm. & 10 gm.

 

रस माणिक्य

गुणधर्म: यह गलित मण्डल आदि विभिन्न प्रकार के कुष्ठ एवं रक्त विकारों में अच्छा लाभकारी है। वातरक्त, भगन्दर, नाड़ी, व्र्रण, दूषित घाव, खुजली, फोड़े-फुन्सी, चकत्ते सुनबहरी, विचर्चिका (एक्जिमा), नाक एवं मुंह के रोग आदि चर्मरोग इसके सेवन से कुछ ही दिनों में निर्मूल हो जाते है।

मात्रा: रक्त विकारों में पूरी आयु वालों को 125 मिग्रा. से 250 मिग्रा. (1 से 2 रत्ती) तक, बच्चों को चैथाई मात्रा सुबह-शाम, मधु 3 ग्रा., घृत 1.5 ग्रा. के साथ घोंटकर चाटें और महामंजिष्ठादि काढ़ा 3-3 चम्मच समभाग पानी मिलाकर सुबह-शाम खाने के बाद।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Ras Manikya”

Your email address will not be published. Required fields are marked *