Sutshekhar Ras No. 1 (S.Y.)

Indication: It is the main medicine for Acidity and burning sensation of the chest. Its use is very beneficial in the main diseases of biliary disorders like abdominal colic, burning sensation of the gorge, vomiting, hoarseness, dizziness. Its treatment is also beneficial in all types of diseases like hard hiccups, dah, cough, tuberculosis (rajyakshama), brain diseases.

Dose: Adult-1 to 2 tablets. Children- ¼ tabs. After every 2 hours with Madhurika or as directed by the physician.

Available in: 5 gm.,10 gm. & 25 gm.

सूतषेखर रस न.1

गुणधर्म: अम्लपित्त, छाती की जलन की मुख्य औषधि है। उदर शूल, कण्ठ की जलन, वमन, मूर्छा, चक्कर आना आदि पित्तविकार प्रधान रोगों में इसका प्रयोग पूर्ण लाभकारी है। सब प्रकार के गुल्म, कठिन हिचकी रोग, दाह, खाॅंसी, क्षय (राजयक्ष्मा) मन्दाग्नि, प्रभृति रोगों में इसका व्यवहार लाभप्रद है।

मात्रा: वयस्कों को 1 से 2 टेबलेट बच्चों को चैथाई मात्रा में दिन में 2-4 घण्टे के अन्तर से मधु 1 ग्राम, गाय का घी 3 ग्राम के साथ अथवा मीठा अनार बिदाना रस या शर्बत के साथ।

Category:

Indication: It is the main medicine for Acidity and burning sensation of the chest. Its use is very beneficial in the main diseases of biliary disorders like abdominal colic, burning sensation of the gorge, vomiting, hoarseness, dizziness. Its treatment is also beneficial in all types of diseases like hard hiccups, dah, cough, tuberculosis (rajyakshama), brain diseases.

Dose: Adult-1 to 2 tablets. Children- ¼ tabs. After every 2 hours with Madhurika or as directed by the physician.

Available in: 5 gm.,10 gm. & 25 gm.

सूतषेखर रस न.1

गुणधर्म: अम्लपित्त, छाती की जलन की मुख्य औषधि है। उदर शूल, कण्ठ की जलन, वमन, मूर्छा, चक्कर आना आदि पित्तविकार प्रधान रोगों में इसका प्रयोग पूर्ण लाभकारी है। सब प्रकार के गुल्म, कठिन हिचकी रोग, दाह, खाॅंसी, क्षय (राजयक्ष्मा) मन्दाग्नि, प्रभृति रोगों में इसका व्यवहार लाभप्रद है।

मात्रा: वयस्कों को 1 से 2 टेबलेट बच्चों को चैथाई मात्रा में दिन में 2-4 घण्टे के अन्तर से मधु 1 ग्राम, गाय का घी 3 ग्राम के साथ अथवा मीठा अनार बिदाना रस या शर्बत के साथ।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Sutshekhar Ras No. 1 (S.Y.)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *