Vaikrant Bhasma

Indication: The best type of Vaikrant by scripture method, is a metallic, decaying and inflammatory destroyer.

Dose: 35 to 60 mg.  or as directed by the physician.

Available in: 1gm.,  2.5gm. & 5 gm.

 

वैक्रान्त भस्म

गुणधर्म: उत्तम किस्म के वैक्रान्त को शास्त्रोक्त विधि से शोधन-मारणकर उत्तम पुटों द्वारा निर्मित भस्म हीरे की भस्म के अभाव में ग्रहणीय है। वैक्रान्त हीरे का उपरत्न माना गया है। यह धातुवर्धक, क्षय व प्रमेह नाशक है।

मात्राः 35 से 60 मिग्रा. तक अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Category:

Indication: The best type of Vaikrant by scripture method, is a metallic, decaying and inflammatory destroyer.

Dose: 35 to 60 mg.  or as directed by the physician.

Available in: 1gm.,  2.5gm. & 5 gm.

 

वैक्रान्त भस्म

गुणधर्म: उत्तम किस्म के वैक्रान्त को शास्त्रोक्त विधि से शोधन-मारणकर उत्तम पुटों द्वारा निर्मित भस्म हीरे की भस्म के अभाव में ग्रहणीय है। वैक्रान्त हीरे का उपरत्न माना गया है। यह धातुवर्धक, क्षय व प्रमेह नाशक है।

मात्राः 35 से 60 मिग्रा. तक अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Vaikrant Bhasma”

Your email address will not be published. Required fields are marked *