VASA-X

Indication: Vasa-X is a research-based proven formula for a dry and irritating cough with an extract from the Age-Old Science Ayurveda – Tulsi, Vasaka & Glycyrrhiza that synergistically clears the respiratory tract, check the viral & bacterial infection, Suppresses the dry and wet cough by acting as an expectorant with most striking feature Safe, without constipation, drowsiness, consciousness & Safe for cardiac and hypertensive patients too.

Dose: Adult: 2 and Children: 1 spoon thrice a day or as directed by the Physician.

Available in: 100 ml, 200 ml and 450 ml.

 

वसा-एक्स कफ़ सीरप

गुणधर्म: आयुर्वेद वैज्ञानिकों द्वारा किए गए शोध के आधार पर वासा-एक्स प्रमाणित औषधि है जो सूखी एवं बलगम युक्त पुरानी खाँसी को बाहर निकालने में, श्वास नलिका प्रदाह में विशेष प्रभावकारी और सुरक्षित है। तुलसी युक्त होने से श्वास नलिका को बलगम निकालकर साफ करता है। वायरल वाले जीवाणुओं को एवं रोग संक्रमण होने से रोकता है। हृदय संबंधी एवं उच्च रक्तचाप वाले मरीजों के लिए भी यह प्रभावकारी है।

सेवन विधि: बालक 1 चाय चम्मच तथा वयस्क 2 चाय चम्मच दिन में तीन बार अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Indication: Vasa-X is a research-based proven formula for a dry and irritating cough with an extract from the Age-Old Science Ayurveda – Tulsi, Vasaka & Glycyrrhiza that synergistically clears the respiratory tract, check the viral & bacterial infection, Suppresses the dry and wet cough by acting as an expectorant with most striking feature Safe, without constipation, drowsiness, consciousness & Safe for cardiac and hypertensive patients too.

Dose: Adult: 2 and Children: 1 spoon thrice a day or as directed by the Physician.

Available in: 100 ml, 200 ml and 450 ml.

 

वसा-एक्स कफ़ सीरप

गुणधर्म: आयुर्वेद वैज्ञानिकों द्वारा किए गए शोध के आधार पर वासा-एक्स प्रमाणित औषधि है जो सूखी एवं बलगम युक्त पुरानी खाँसी को बाहर निकालने में, श्वास नलिका प्रदाह में विशेष प्रभावकारी और सुरक्षित है। तुलसी युक्त होने से श्वास नलिका को बलगम निकालकर साफ करता है। वायरल वाले जीवाणुओं को एवं रोग संक्रमण होने से रोकता है। हृदय संबंधी एवं उच्च रक्तचाप वाले मरीजों के लिए भी यह प्रभावकारी है।

सेवन विधि: बालक 1 चाय चम्मच तथा वयस्क 2 चाय चम्मच दिन में तीन बार अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “VASA-X”

Your email address will not be published. Required fields are marked *