Vatrogari Oil

Indication: Useful in all types of Neuralgic pain, Rheumatoid, Arthritis, Sciatica, Lumbago, Body ache, Backache and Muscle pain, Joint pain, Stiffness of joint, etc.

Dose: Massage the affected part twice or thrice a day or as directed by the Physician.

Available in: 50, 100, 200 & 500 ml.

 

वातरोगारि तैलम्

गुणधर्म: सभी प्रकार के वात रोग जैसे आमवात, गृध्रसी, कमर दर्द, पीठ दर्द, चोट-मोच, मांसपेशियों  का दर्द, जोड़ों का दर्द एवं जोड़ों की शिथिलता आदि में गुणकारी आयुर्वेदिक मालिश का तेल।

मात्रा: हल्के हाथों से दिन में दो या तीन बार, आवश्यकतानुसार मालिश करें। अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Indication: Useful in all types of Neuralgic pain, Rheumatoid, Arthritis, Sciatica, Lumbago, Body ache, Backache and Muscle pain, Joint pain, Stiffness of joint, etc.

Dose: Massage the affected part twice or thrice a day or as directed by the Physician.

Available in: 50, 100, 200 & 500 ml.

 

वातरोगारि तैलम्

गुणधर्म: सभी प्रकार के वात रोग जैसे आमवात, गृध्रसी, कमर दर्द, पीठ दर्द, चोट-मोच, मांसपेशियों  का दर्द, जोड़ों का दर्द एवं जोड़ों की शिथिलता आदि में गुणकारी आयुर्वेदिक मालिश का तेल।

मात्रा: हल्के हाथों से दिन में दो या तीन बार, आवश्यकतानुसार मालिश करें। अथवा चिकित्सक के परामर्शानुसार।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Vatrogari Oil”

Your email address will not be published. Required fields are marked *